• Amused
  • Angry
  • Annoyed
  • Awesome
  • Bemused
  • Cocky
  • Cool
  • Crazy
  • Crying
  • Depressed
  • Down
  • Drunk
  • Embarrased
  • Enraged
  • Friendly
  • Geeky
  • Godly
  • Happy
  • Hateful
  • Hungry
  • Innocent
  • Meh
  • Piratey
  • Poorly
  • Sad
  • Secret
  • Shy
  • Sneaky
  • Tired
  • Wtf
  • Thanks Thanks:  9
    Likes Likes:  97
    Page 1 of 2717 12311511015011001 ... LastLast
    Results 1 to 10 of 27161
    1. #1
      Nicaraguayile Ortega
      This user has no status.
       
      I am:
      ----
       
      Sootran's Avatar
      Join Date
      Jun 2009
      Location
      lokame tharavadu ennanello
      Posts
      32,358
      Post Thanks / Like
      Mentioned
      0 Post(s)
      Tagged
      0 Thread(s)
      Follows
      0
      Following
      0
      Rep Power
      17281

      Default Monalisa's Smiley thread

      Friends ,

      new thread for P_jaani and fans.

      PS : No adult contents, racist/ offensive materials please...
      Quote Originally Posted by Bean View Post

      Pandu PazhassiRaja irangi Hit ayappol enikkum ithu pole dharmikaroshavum, asooyayum, pinne vere enthokkeyo thonniyirunnu

    2. Likes P_Jani liked this post
    3. #2
      Active User
      This user has no status.
       
      I am:
      ----
       
      P_Jani's Avatar
      Join Date
      Jan 2012
      Posts
      30,868
      Post Thanks / Like
      Mentioned
      0 Post(s)
      Tagged
      0 Thread(s)
      Follows
      0
      Following
      0
      Rep Power
      5258

      Default

      Quote Originally Posted by drsantabajuwala
      Jagmohanji, I am just an ordinary member like you. I care for this site EC, just as you do.. lekin bethne ke liye kutta b saaf suthri jagah doondta hey... If you were to list 3 things that turn members away or discourage participation?
      I noticed you have been posting EC links at other forums. I am sure admin will appreciate your gesture. Other forums you visit are teaming with members, what is it about EC that keeps members away?


      If you were to list 3 things you will implement to bring in more participative members?

      Saar,
      I am on this (EC) forum, for last 12+ years on and off, taking a glance for every 2-3 months ( mainly on a read only mode, first ID : rakesh15 here, I guess ) my other main forums are and were,..

      R2iclubforums – for last 13+ yrs, they all 50,000 members know my name,..
      R2IClubForums

      Snehasallapam - People know me as P_jani, ppl are all malayaali(Kerala) who knows mostly no hindi, they had banned me 10+ times, about 8+ yrs ago, now they love me the most.
      Monalisa's Smiley thread
      http://www.snehasallapam.com/forum24...eli-leela.html

      Also this thread, at one place now running at 257000 viewings,… ( Flip some pages for some good time-pass )
      Sexy Sexy, Funny Funny Toons,.... - Page 1180 - ******
      Sexy Sexy, Funny Funny Toons,.... - Page 744 - ******


      Some other good threads there, mainly of my major contributions are,. They all have above lakhs of views,.. ( will give links only if interested, no porns, clean stuff )

      ^^On this very forum which is a dirty forum in fcat ( bottom half sections are XXX ) has 23 lakhs of desis, and I post only is chit-chat and clean area, few other “ THE BEST “ threads, I have on this forum.

      Now,. To answer your question, …

      If you were to list 3 things that turn members away or discourage participation?
      1. No CoC established ( code of conduct ) and ppl swearing and open throwing insult flames as and when wished, and walk clean, women insulting and abusing with demean words,.. and hence ppl may hesitate to join and share,.
      2. Lack of substantive posts / knowledgeful discussions but more rather one-liners of kiddie-kid, haphazard one-liners of useless lines, just for sake of making the pots
      3. low bandwidth, missing many areas of diff. hobbies subject matters, ( many areas are not covered ) and other interesting topics ( I can guide you, ( what other people do ) what you mean by that, if needed – no porn or filmy either )


      If you were to list 3 things you will implement to bring in more participative members?

      • Eliminate 1.
      • Eliminate 2.
      • eliminate 3.





      ====================


      Friends,.. Yess,...I'm back in your service, your Host and Dost P_Jani.


      Presenting once again with, Monalisa's Smiley World / Jani's Broadcast / Jani O Jani / Rakesh's Recreation Corner and Yess,....the very corner - known with many other names, in many groups and forums.

      Thanks for so many coordial e-mails, from my Gujju friends ( Yrs zeal, enthusiazm and inspiration is unbelievable ) and also all friends world-wide who wrote to me and inspired me to re-open the dead thread, once again. I hope, you will daily visit this venue, as your daily meal n' pill for the "stress-buster" items and will also enjoy as much as I do, while bringing the said entertainment - fun-time - Time-pass selected material available any under the Sun and even beyond it,... from galaxies far away !!

      Hope, we all will be having a very pleasant and colorful journey together.

      Feel free to munch on and add the very similar material
      if you came across to share with.

      So, sit back, relax and enjoy the fun-ride.

      So ?? Here,.... we go. ~~~~~~~~~~

      Camera,.... Light,..... Action !!


      Ready,.... Set,..... Go.




      ASC :
      8E5F0-7E61B-F60E2-2EA74 turn off the Modem switch.

      try others
      77756-FDDE0-1675D-55D84
      FE82C-53269-154B3-F7A84
      683F0-0209C-55747-48584

      9.4
      77756-FDDE0-1675D-55D84
      17701-E12BB-EB6E1-99484
      FE82C-53269-154B3-F7A84
      FE82C-53269-154B3-F7A86
      2EC72-368A4-5E4E9-D54A1
      17701-E12BB-EB6E1-99484

      __________________

      Advanced system care 10 – License key – hosts file editing : [ Making a PRO version ]


      Go to C:\Windows\System32\drivers\etc

      Open the “hosts” file with notepad and add these two lines at the end: ( above the statement of “ end of lines,… “ )
      127.0.0.1 asc.iobit.com
      127.0.0.1 www . asc55.iobit.com [ No space after www and before asc55 ]
      If the system don’t let save the file,…. Highlight and right click the “ hosts “ file and remove the tic mark of ‘read only’.
      3. Activate program with key given below.{will give an error "can't connect to server.." but the program will activated to pro anyway}.

      4. Done!


      Key: 76579-1E116-4F70E-2D2F7


      ..

      smartdefrag 5.4 PRO license code :

      73C61-1F25B-BA96D-671B9
      5.6 and for 5.5.1 ===> 4604B-94BBE-22CD1-29EB9, 8E5E1-E1776-26EC8-2DCB9 ( Latest )


      IObit uninstaller 6.1 or 6.4 ::License code : 9910E-D825E-191A9-6F3B6

      Iobit M F :971CC-7A3A2-F4D46-3F9A1 , (5.1 ) 38691-1AAO5-4AE43-A0074

      DRIVER BOOSTER : 6BCA2-00A17-7B3E8-453B4 ( for 4.4 )
      or,..
      7E6CA-C22FD-0F079-5A0A1 ( REPLACE ZERO WITH "O" IF NOT WORKING )

      ================================================== =======

      Driver booster 5 activation :

      Activation Codes: 2EC72-368A4-5E4E9-D54A1
      ____________________________________________
      1. Disconnect from internet
      2. Run Driver Booster 5, Then go to settings ( upper left, menu ) , After that,...click on NetWork
      3. Change Proxy to Specify Proxy Sever (Only When you connect to Internet Via Proxy)
      4. Add host 0.0.0.0 Port: 8080
      5. Enter Any of the Serial Keys, I given in Description 6. Click Active Done, enjoy .

      other codes to try :

      code
      2EC72-368A4-5E4E9-D54A1
      270A1-28F28-8D79D-70DE3
      2EF8E-6CC42-81AA9-D42E3
      205C2-8CF23-57FF8-57CE3

      actual vdo : Iobit Driver Booster 5 pro 2017 full version with serial key lifetime | within 2mn | - YouTube

      Heating furnace : page 1499

      .......
      Last edited by P_Jani; 03-26-2018 at 03:00 AM.

    4. Likes Smartu liked this post
    5. #3
      True Talent Triumphs!
      This user has no status.
       
      I am:
      ----
       
      Antony Moses's Avatar
      Join Date
      Jul 2009
      Posts
      76,813
      Post Thanks / Like
      Mentioned
      0 Post(s)
      Tagged
      0 Thread(s)
      Follows
      0
      Following
      0
      Rep Power
      30011

      Default

      Officially sanctioned spamming

    6. Likes cinebuff liked this post
    7. #4
      Active User
      This user has no status.
       
      I am:
      ----
       
      P_Jani's Avatar
      Join Date
      Jan 2012
      Posts
      30,868
      Post Thanks / Like
      Mentioned
      0 Post(s)
      Tagged
      0 Thread(s)
      Follows
      0
      Following
      0
      Rep Power
      5258

      Default

      Satires :

      In welding, there are sparks first and bonding forever.
      In wedding, there is bonding first and sparks forever.

      "What is the difference between inside & outside the school gate ?
      We played with Life inside the gate, & Life played with us outside the gate".

      I can Understand why Taliban Killed kids...
      People with even basic Intelligence are threat to them.

      I was in a job interview today when the manager handed me his laptop and said, "I want you to try and sell this to me."
      So I put it under my arm, walked out of the building and went home.
      Eventually he called my mobile and said, "Bring it back here right now!"
      I said, " Rs.30000, and it's yours."

      आप भले ही संस्कृत की बजाय जर्मन
      की वकालात कर लो,
      लेकिन, उधर जर्मन वाले संस्कृत सीखकर धडल्ले से आपके
      वेद, उपनिषद, आयुर्वेद आदि का ऑरिजिनल रिसर्च उठा ले गए हैं..


      Surya ko zor ki lagi toh public toilet mein ghoos gaya aur toilet seat pe jaake bait gaya...
      Saamne waali deewar pe likha tha...
      "Ithna zor agar padhayi likhaai mein lagatha toh aaj ees se bhi acchi seat pe baita hotha".


      पूरी दुनिया ही मजहबी नफरत में जल रही है...
      फिर भी कमबख्त इतनी ठंड क्यों पड़ रही है॥


      धर्म खतरे में इसलिए भी है क्योंकि खुद तो हम गरम पानी से नहाते हैं पर भगवान को नल के पानी से नहलाते हैं


      आँखें भी खोलनी पड़ती हैं रौशनी के लिए....-------महज़ सूरज निकलने से अँधेरा नहीं जाता....!!

      चले तो थे दोस्तों का पूरा काफिला लेकर;
      पर कुछ 'जुदा' हो गए और कुछ 'खुदा' हो गए;
      कुछ 'गुमशुदा' हो गए तो कुछ
      .
      .
      .
      .
      'शादीशुदा' हो गए।?


      जिदगी मे सिर्फ पाना ही सब कुछ नही होता.......
      .
      .
      .
      .
      उसके साथ नट बोल्ट भी चाहिए ....


      Baba gurmeet Ram Rahim ka khud ko Direct karke film banana theek waisa hi hai jaise Nehru aur Indira ka khud ko Bharat Ratn dena.
      और हाँ सैंटा ( Santa ) हर साल आता है क्यूंकि अन्धविश्वास तो सिर्फ हम लोग मानते हैं

      कोर्ट ने ढेर सारो धन खायो,................तभी तोह, प्रेम-रतन घर आयो !

      ग़ालिब ने खूब कहा है :
      ऐ चाँद तू किस मजहब का है !!
      ईद भी तेरी और करवाचौथ भी तेरा!!


      PK logic
      If you feed a cow, you are an illiterate.
      If you eat a cow, you are an intellect.

      .pk is internet domain extension for Pakistani websites just like .in for India



      शादी के लिए आए गंजे लड़कों की फ़ोटो रिजेक्ट करने वाली 90 फीसदी लड़कियों को शादी के दस साल बाद गंजे पति के साथ ही रहना पड़ता है.
      और शादी के लिए देखी मोटी लड़कियों को रिजेक्ट करने वाले 90 फीसदी लड़कों को 2-3 साल में मोटी बीवी के साथ ही रहना पड़ता है..


      ashiqui-1: Abb Tere Bin Jee Lenge Hum..
      Aashiqui-2: Tuje Jeena Hai Mere Bina..
      This Is How Male Lover Changed From Aashiqui-1 to 2..


      भगवान से वरदान माँगा
      कि दुश्मनों से
      पीछा छुड़वा दो,
      अचानक दोस्त
      कम हो गए...


      लडकियाँ हर मोड़ पे डरती हैं,
      अकेली हो तो सुनसान राहों का डर,
      भीड़ में हो तो लोगों का डर,
      हवा चले तो दुपट्टा उड़ने का डर,
      कोई देखे तो उसकी आँखों का डर,
      बचपन हो तो माँ बाप का डर,
      जवान हो तो भाइयों का डर,
      वो डरती हैं और तब तक डरती हैं,
      जब तक इन्हें कोई जीवन साथी नहीं मिल जाता,
      .
      .
      .
      और यही वो शख्स होता है,
      ,
      जिससे वो सबका बदला लेती है ।


      इन्सान दीवारें बनाता है और उसके बाद यह सोचकर परेशान होता रहता है कि दीवार के पीछे क्या हो रहा है.....!!!


      एक ही बात इन लकीरों में अच्छी है…
      धोखा देती हैं मग़र रहती हाथों में ही हैं …!!


      हर बार आजमाते है कि
      "परमात्मा " है कि नही ,
      पर उसने एक बार भी सबूत नही मागा
      हम "इंसान" है के नही !!!!!


      सुबह ठन्डे पानी में नहाने का तरीका -
      मन में निर्णय करे, और कहे कौन सा साला ऑफिस से निकाल देंगे बिना नहाये जाने पे।
      ऐसे ही जाऊंगा।


      जितनी मिल्क क्रीम आज कल ब्यूटी साबुनों लक्स , डब आदि में होती है उतनी तो असली सचमुच की मिल्क क्रीम में भी नहीं होती ....!!


      The economy is so bad that a picture is now worth only 200 words.


      जो कहते है कि पाँच रुपये में पेट भर जाता है,
      वो कान खोलकर सुन लें...
      इस देश में पेट खाली करनें का ही पाँच रुपया लग जाता है...


      Drug lord Pablo Escobar had so much cash that rats ate nearly $1 billion of his money every year.


      जीतो: कल रात तुम मुझे नींद में गालियाँ क्यों दे रहे थे?
      संता: तुम्हे ग़लतफहमी हुई है।
      जीतो: कैसी ग़लतफहमी?
      संता: यही कि मैं नींद में था।


      I had been doing Tech Support for Hewlett-Packard's DeskJet division for about a month when I had a customer call with a problem I just couldn't solve.

      She could not print yellow. All the other colors would print fine, which truly baffled me because the only true colors are cyan, magenta, and yellow. For instance, green is a combination of cyan and yellow, but green printed fine.

      Every color of the rainbow printed fine except for yellow. I had the customer change ink cartridges. I had the customer delete and reinstall the drivers. Nothing worked. I asked my co-workers for help; they offered no new ideas.

      After over two hours of troubleshooting, I was about to tell the customer to send the printer in to us for repair when she asked quietly, "Should I try printing on a piece of white paper instead of this "yellow" construction paper?"


      बहुत सुंदर शब्द
      जो एक मंदिर के दरवाजे पर लिखे थे।
      "अगर तुम
      अन्याय, अत्याचार और पाप
      करते करते थक गऐ हो तो ...
      अंदर आ जाओ क्योंकि ‪#‎भगवान‬ जी
      मेहरबानियाँ करते करते
      अभी नही थके हैं।"


      पहचान कफ़न से नहीं होती, लाश के पीछे चलने वाला काफिला बयान करता है हस्ती इंसान की।।।


      लड़की: अम्मी मैं शादी नहीं करुँगी
      और अगर ज़बरदस्ती तुम ने मेरी शादी की तो घर से भाग जाउंगी..
      माँ रोते हुए बोली, "बेटी मैंने भाग के तेरे अब्बा के साथ शादी की,
      तेरी खाला और बहन ने भाग के शादी की,
      तेरा भाई नौकरानी के साथ और तेरे चाचा धोबन के साथ भाग गया,
      तेरी फूफू सब्जी वाले के साथ और तेरी मौसी की बेटी दूधवाले के साथभाग गयी,
      तेरा बाप दो बार पड़ोसन के साथ भाग चुका है अब तू भी भाग जायेगी तो
      .
      .
      ...
      .
      हमारी क्या इज्ज़त रह जायेगी कुछ ख्याल कर"


      अमेरिका कि मुद्रा डॉलर ,UAE कि दिरहम , बंगलादेश कि टका .. इसी तरह ..
      भारत कि मुद्रा "एयरटेल विडियो'


      "Kismat pahle hi likhi ja chuki hai
      to koshish karne se kya milega?"
      .
      .
      .
      Best Answer:
      "Kya pata kismat me likha ho ki"
      "KOSHISH SE HI SAB MILEGA"


      चमन की बदौलत,....... रंग और सुगंध से होती है !
      अगर हम ही हम है,.......तो, क्या हम है !
      अगर तुम ही तुम हो,......तो क्या तुम हो !!


      हमरे गोला के कुछ लोग जोक को जोक नहीं लेते, बहुत सीरियस रहते हैं
      थोड़ा हंसा और मुस्कुरा भी दिया कीजिये, तनाव तो सबके जीवन में है
      नहीं तो हमरा का जाता है, हम तो पोस्ट करते रहेंगे, मुँहवा फुलाए रहिये फिर

      ____________
      Last edited by P_Jani; 07-15-2016 at 12:55 AM.

    8. #5
      Active User
      This user has no status.
       
      I am:
      ----
       
      P_Jani's Avatar
      Join Date
      Jan 2012
      Posts
      30,868
      Post Thanks / Like
      Mentioned
      0 Post(s)
      Tagged
      0 Thread(s)
      Follows
      0
      Following
      0
      Rep Power
      5258

      Default

      China is amazing.





      प्रिये दोस्तों,

      १. अभी-अभी, "आर टु आई" फोरम पे जो, कई और काफी हपतो के बाद देखा, तोह पता चला की, फोरम से कई रोजाना, वो जो पुराने नियमित लोग, अब बिलकुल ग़ायब है. फोरम अभी भी, तनिक भी नाही बदला, वहीं का वही पुरानी 'बोरिंग बकवास' में सड़ा पड़ा है. स्टील एट स्क्वैयर वन, कोई भी प्रगति नहीं की है. पैसे और प्रोब्लेम्स के अलावा , किसी को, और कुछ सुजता ही नाही. सब की मति मरी गयी है.

      २. फोरम पे सिर्फ बकवास ही चल रही है, कुछ लोगो को तोह दूसरे की चाटने-चूसने की ही, वोह ही पुरानी आदत जो पड़ गयी है, तोह भला,..वोह ही अब ऊन के गॉड-फधर है, मई-बाप है, अन्ना -दाता है,... और वे चरण-रह ही लिए, हाथ जोड़े, सर नमाए, वंदन में रहते है. "हाजी,.. हाजी,.. एन्ड पाय लागुजी " वाली यसमेंशिप का बिज़नेस चालू है. पंजाब की तोह बात ही छोडो, बहगत सिंह कब का बदनाम हो चूका,.. मगर अब तोह, सरदार, जिन्हा और मोदी जैस लोह-पुरुस पैदा करने वाले गुजरात के लोग भी, इसी चूसु-चाटु गिरी में शामिल है !

      ३. नए सदस्यों पे, ग्रुपिजम से अटैक कर उन्हें मार-दबाया जाता है, थेंक्स एक्सटेंड कर के, ग्रुप में खेल जाता है...दबे-कुचले नुब को बाद में, बान किये, गान पे लात मार, भगाया जाता है, और बाद में हांसी उड़ाई जाती है. मोदी के बाशर को उन्नति और बढ़ावा दिया जाता है, मोदी और बीजेपी को सपोर्ट करने वालों का बहिस्कार किया जाता है. दूसरे कई फेसबुक के पेजेज पर भी अब यह मामला साफ़ सामने आ रहा है. फोरम अब तोह फेसबुक पे भी वाद और विवाद में उलजता जा रहा है.

      ४. कुछ नपुंसक वहिवती कार्य-करता ओ ने तोह, बरसों से मानो, नस-बंधी की विधि करवा कर, कुछ ताना-शाही, माले-तुजर और सरमुख्त्यार आदम-खोरो लोगो के आगे, जो शरण-gati स्वीकार कर ली है, जो उन्हें कुछ भी तोह बोल ही नाही पाते. हिटलर का शाशन खुल्ले-आम चल जो रहा है, और सदाम और स्टॅलिन, मुसोलिनी का पिछवाड़ा चाटने वालों की भी कोई कमी नहीं है. सदाम-साशन आज भी ज़िंदा है, बर-करार हे, मौजूद है.
      शिप के सभी कैप्टन्स ने, शीला-जीत ना खा कर, "न-मरदाना" स्वीकार किये, सरमुख्त्यारो ने आगे हथियार दाल दिए है. अब तोह वायग्रा भी काम नहीं करने वाली.

      ५. इसी सील-सिले में, कई फेसबुक , ट्विटर और व्हॉट्सएप ग्रुप्स भी खुल गए है, जो इन सभी विगतो की जोर-शोर से अब तोह खुल्ले में चर्चा -विचरण कर रहे है, बजेपी की कुछ ग्रुपो ने इसे, सरेआम ब्रेयिन-वोश बताया है.

      ६. दौरे को धारण करने वाले को तोह, बस पैसा ेकमांने कि ही पड़ी है, वोह अपने ट्वितवर पेज पे,
      फिेिनन्स से ग्राहक धंधे में खोया पर हुआ है. सुकान, शिप का जो, आदम-खोरो के हवाले कर, चैन की नींद सो रहा है. कभी बजपि के हार्ड-कोर ग्रुप से बुलावा आएगा, तब शायद ही आँखें खुलेगी.

      ७. 'वापसी' जैसे कुछ चन्द लोगो को अभी भी अपनी नसोंे में खून दौड़ता, मर्दानी बहेती, और हिदय धबकता हुआ दिखाई दे रहा है, जो अकेले हाथों सामना कर रहे है,...पर ऊन की सुनता कौन? जब सारा देश ही आलम खोरो के नाम बिका हुआ है, जुल्म-गारो का शाशन और अनु-शाशन चारो और जो है,.सारी फाइनांस ही जब टेरर ग्रुप से आती है! कौंन करेगा इन आतंकवाद को कब्जे में?

      ८. प्रमाणिक और नेक-दिल राजस्थानी डॉक्टर ने जब येह बेडा हाथ में लिया है, जिनके खुद परिवार के सदस्य देश के एम एल इ और लीड पार्टी स ेजुडे हुए है, क्या यह ऊन आदमखोरों का सामना कर पाएंगे ? और, येह आग से जब येह सारी धरती ही फटी हुयी है... क्या वो अकेले हाथ, कांपती इंसानियत को लेकर, अत्याचारों को सम्भाल शकेंगे? राज कर रहे है हैवान, मगर जिस की होंगी ताकत अपूर्व, जिन का होंगे निशान अभेद,.. जो करेंगे इन सब का सर्व-नाश वोह ही कहलाएंगे त्रिदेव.

      समय की खुद अपनी ही कहानी होती ही है.....
      हे,.. इक क्वेश्चन !

      सफलता.... देर तक, किस शक्श के हिस्से में रहती है?
      बहुत ऊँची इमारत , हर घडी खतरे में रहती है !

      देखते रहिये,.... तब तक,... " आज-तक " !







































      She looks angry.
      __________________










      Unfortunate logo placement at a McDonald's in Ahmedabad.







      ખુદા તારી કસોટી

      ખુદા, તારી કસોટીની પ્રથા સારી નથી હોતી;
      કે સારા હોય છે એની દશા સારી નથી હોતી.

      ખૂબી તો એ કે ડૂબી જાય તો લઈ જાય છે કાંઠે,
      તરો ત્યારે જ સાગરની હવા સારી નથી હોતી.

      સિતારા શું કે આવે છે દિવસ રાતોય ગણવાના,
      હંમેશાંની જુદાઈની દશા સારી નથી હોતી.

      જગતમાં સર્વને કહેતા ફરો નહિ કે દુઆ કરજો,
      ઘણાં એવાંય છે જેની દુઆ સારી નથી હોતી.

      નથી અંધકારમય રસ્તો છતાં ખોવાઈ જાયે છે,
      સૂરજને પણ સફર માટે દિશા સારી નથી હોતી.

      બધાં સુખનો સમય મળતાં ભરે છે દમ ગરૂરીના,
      વસંત આવ્યા પછી અહીંયાં હવા સારી નથી હોતી.

      કબરમાં જઈને રહેશો તો ફરિશ્તાઓ ઊભા કરશે,
      અહીં ‘બેફામ’ કોઈ પણ જગા સારી નથી હોતી.

      ખુદા, તારી કસોટીની પ્રથા સારી નથી હોતી;
      કે સારા હોય છે એની દશા સારી નથી હોતી.

      ખૂબી તો એ કે ડૂબી જાય તો લઈ જાય છે કાંઠે,
      તરો ત્યારે જ સાગરની હવા સારી નથી હોતી.

      સિતારા શું કે આવે છે દિવસ રાતોય ગણવાના,
      હંમેશાંની જુદાઈની દશા સારી નથી હોતી.

      જગતમાં સર્વને કહેતા ફરો નહિ કે દુઆ કરજો,
      ઘણાં એવાંય છે જેની દુઆ સારી નથી હોતી.

      નથી અંધકારમય રસ્તો છતાં ખોવાઈ જાયે છે,
      સૂરજને પણ સફર માટે દિશા સારી નથી હોતી.

      બધાં સુખનો સમય મળતાં ભરે છે દમ ગરૂરીના,
      વસંત આવ્યા પછી અહીંયાં હવા સારી નથી હોતી.

      કબરમાં જઈને રહેશો તો ફરિશ્તાઓ ઊભા કરશે,
      અહીં ‘બેફામ’ કોઈ પણ જગા સારી નથી હોતી.

      ----------------------------------

      ભાગ્ય-રેખા કેવી સરમુખત્યાર છે ,
      હાથ માં છે તો યે કાબુ બહાર છે . . . !


      સાવ નક્કામી નથી, કામ ની પણ છે, એક રેખા હાથમાં તારી ય છે,
      મેં મને મારા મહીં જ રહેવા દીધો, ભૂલ એમાં કંઈક તો મારી ય છે . . .
      - રજનીકાંત સતવારા .


      મોટા માણસ બનવું એ સારી વાત છે .
      પરંતુ ,
      સારા માણસ બનવું એ મોટી વાત છે . . . !


      માર્કેટ રિસર્ચ . . .

      રિલાયન્સના સુપર માર્કેટમાં કંપની જેનું ઉત્પાદન નથી કરતી
      એવી દરેક ચીજ-વસ્તુ બજાર કરતાં સસ્તી મળે છે.
      અને...
      કંપની સસ્તું પેટ્રોલ વેચી શકતી નથી ,
      જેનું તે ઉત્પાદન કરે છે . . . !



      જૂઠ બધું જ વેચાઈ ગયું બજારમા બપોર સુધીમાં,

      બસ એક સત્ય લઈને બેસી રહ્યો હું સાંજ સુધી...


      કપાયી ગયેલા વૃકઃસ નું મુળીયું રડતું હતું,....!
      એનું બાકી નું બદન, કોયી ના ચૂલા માં જલતું હતું... !!







      મારા વિના મારી હસતી ,.... એ રીતે વિસરાયી ગયી
      જળ માં થી નીકળી આંગળી ,........ ને જગા પુરાયી ગયી




      "મા" નો અર્થ દુનિયાની બધીજ ભાષાઓ માં "મા" જ થાય છે . . .





      દોસ્તો





      “અમારી ભૂલો ને માફ કરતા રહેજો,

      જિંદગી માં દોસ્તો ની કમી પૂરી કરતા રહેજો,

      કદાચ હું ના ચાલી શકું તમારી સાથે,

      તો તમે ડગલે ને પગલે સાથ આપતા રહેજો…"








      Last edited by P_Jani; 08-29-2016 at 05:05 AM.

    9. #6
      Active User
      This user has no status.
       
      I am:
      ----
       
      P_Jani's Avatar
      Join Date
      Jan 2012
      Posts
      30,868
      Post Thanks / Like
      Mentioned
      0 Post(s)
      Tagged
      0 Thread(s)
      Follows
      0
      Following
      0
      Rep Power
      5258

      Default


    10. #7
      Active User
      This user has no status.
       
      I am:
      ----
       
      P_Jani's Avatar
      Join Date
      Jan 2012
      Posts
      30,868
      Post Thanks / Like
      Mentioned
      0 Post(s)
      Tagged
      0 Thread(s)
      Follows
      0
      Following
      0
      Rep Power
      5258

      Default

      One Liners and Super-satires,... !!

      जब से, "मेट्रो रेल" की बात चल रही है,... इस ने, धारावी वाले लोगों की नींद हराम कर रखी है,
      की साला,.. अब इतने ऊपर हगने जाएंगे कैसे !

      जरूरी नहीं है कि चार सप्ताह से अधिक समय तक खांसी आना टीबी का ही संकेत हो । यह मुख्यमंत्री बनने का लक्षण भी हो सकता है। So keep coughing��

      बड़ा ही ज्ञान होता हैं उनके पास,
      जिन्हें हासिल नही हुआ कुछ भी।

      Hadd Hai Yar.. Ab ye Afwah Kisne Failayi ki आशीष नेहरा कल्कि कोईचिन का दांत-बोला भाई है।


      Girl : Mere Dad ne Mujhe Nayi Mobile Phone Leke Diya
      Boy: Oh Wow.. Which One??
      Girl: Lavaris
      Boy: Abey Akkal ki Dushman... Wo Lava iris hai ..


      प्रश्न : जिन लोगो के शादी के बाद भी अवैध सम्बंध जारी है ,उनको सबसे ज़्यादा डर किस चीज से लगता है?

      ;
      ;उत्तर- सावधान इंडिया और क्राइम पेट्रोल शो से !!


      ज़िंदगी में इंसान सब कुछ समझ सकता है बस ज़िंदगी और इंसान समझ में नहीं आते...

      ये दुखती रग भी बड़ी अजीब चीज है,
      जरा सा छिड़ते ही बिलबिला पड़ती है!

      जिस आदमी ने राहुल बाबा को प्रोजेक्ट करने की सलाह कांग्रेस को दी होगी उसी आदमी ने अनुष्का शर्मा को सर्जरी कराने के लिए कहा होगा..अच्छी भली दिखती थी बेचारी


      कुछ लोग जब रात को अचानक फोन का बैलेंस ख़त्म होजाता है इतना परेशान हो जाते हैं माने जैसे सुबह तक वो इन्सान जिंदा ही नहीं रहेगा जिससे बात करनी थी।

      कुछ लोग जब फ़ोन की बैटरी 1-2% हो तो चार्जर की तरफ ऐसे भागते है जैसे उससे कह रहे हो
      "तुझे कुछ नहीं होगा भाई ! आँखे बंद मत करना मैं हूँ न ! सब ठीक हो जायेगा।

      कुछ लोग अपने फोन में ऐसे पैटर्न लॉक लगाते हैं जैसे isi की सारी गुप्त फाइलें उनके फ़ोन में ही पड़ी हो।

      आजकल प्यार में दिल कम
      .
      .
      .
      और सिम ज्यादा टूटते हैं।


      अगर बीवी अपनी साडी का पल्लू अपनी कमर में ठूंस ले तो समझ जाओ कि...


      या तो वो घर का काम निपटाने वाली है या फिर आपको।

      "लगन और ठरक इंसान से कुछ
      भी करा सकती है.. कुछ भी..!"

      ग़ालिब ने खूब कहा है :
      ऐ चाँद तू किस मजहब का है !!
      ईद भी तेरी और करवाचौथ भी तेरा!!

      तौहीन ना कर शराब को कड़वा कह कर,
      जिंदगी के तजुर्बे शराब से भी कड़वे होते है...
      ।। कहते है पीनेवाले मर जाते है जवानी में ।।
      ।। हमने तो बुजुर्गों को जवान होते देखा है
      मैखाने में ।।


      मैगी ही अकेली एक ऐसी
      फीमेल थी ,
      जो दो मिनट में तैयार हो जाती थी.....
      ������
      अब उसपर भी रोक लग गयी....

      इस मुल्क के फर्जी -इलीट क्लास के बंदे एक-दूसरे को अगले साल ये बता रहे होंगे-यू नो , हम अभी दुबई गय़े थे, यू नो स्पेशली सिर्फ मैगी खाने गये थे। य़हां तो बैन है न।

      कुछ लोग इतने निष्पक्ष होते हैं कि सुबह लोटा भी बिना पेंदी वाला ही लेकर निकलते हैं..

      सावधान इंडिया आपको बताता हैँ की आपकी पत्नी या पति अगर आपको ज्यादा प्यार करते हैँ या ज्यादा केयर करते हैँ या ज्यादा ध्यान रखते हैँ तो जरूर उनके नाजायज सबंध हैँ और वो आपके मर्डर का प्लान बना रहे हैँ ।
      Tau: Mera Chora Padhai Mein Kaisa Seh?
      Teacher: Chaudhary Yun Samaj Le Aaryabhatt Ne Zero Ki Khoj Iske Khatir Hi Kari Thi

      वो तो Medical Store पर इन लड़कियों का बस नहीं चलता, वरना सिर दर्द की गोली माँगते हुए भी पूछ लें, "भईया इसमें कोई और रंग दिखाना"

      वो हमारे जयचंदों से खुश रहते हैं..हम उनके मीर जाफरों से..लेकिन जयचंदों की संख्या मीर ज़ाफरों से बहुत ज्यादा है..बहुत कोम्प्लिकेटेड equation है..जिसने साध ली वही पार

      काश Manner's, Morals और Intelligance भी पैसे से बिकता,तो शायद हमारे यहाँ बकलोलो की संख्या कुछ कम होती..

      Promotion ki har saal rah dekhne walon, Yaad Rakho, Daya aaj bhi Inspector hai aur Praduman ACP....
      .
      .

      .
      .

      Your's Truly
      HR


      लव लेटर का हवाइ जहाज बनाकर सही खिडकी मे फेकने वाली कला भी अब विलुप्ती की कगार पर है

      Jab Sultana Daku ban ke hi ghumna hai to Sunscreen pe kharcha kyoun???

      फिलम 'लुटेरा' और 'पुलिसगिरी' वक ही साथ रिलीज़ हुयी,.... कलियुग की कमियाबी देखो,
      लुटेरा चल गयी,.. पुलिसगिरी नहीं चली...

      सच्चा भारतीय वही है जो चायपत्ती में एक कप फ्री मिलने पर ही ख़ुशी से झूम उठे और हर महीने कप पाने के लिए वही वाली चायपत्ती खरीदे!
      "और कहाँ तक पहुची तुम्हारी कहानी..?"
      "कहानी तो हो चुकी ख़त्म"
      "फिर क्या लिख रहे हो अब।"
      "कहानी ही लिख रहा हूँ।"
      "तुमने तो कहा खत्म हो गई।"
      "तभी तो लिख रहा हूँ।"

      जब तक एक जेनरेशन समझदार होती है तब तक क्रांतिकारियों का दूसरा जत्था समाज में आ जाता है


      आवेदन पत्र हमें झूठ बोलना भी सिखाते थे। खडूस प्रिंसिपल जो फूटी आँख ना सुहाता था, उसे भी "आपका सदैव आभारी" और "आपका आज्ञाकारी" लिखना पड़ता था।

      अभी इंसानियत पूरी तरह से ख़तम नहीं हुई है, यह तब ज्ञात होता है जब बाइक चलाते समय कोई अनजान सज्जन कहता है
      भैया साइड स्टैंड उठा लीजिए


      गल्ति तोह कोइ भी ढून्द लेता है , कभी गल्ति से खुद को भी ढून्द लो

      गलत्फ़हेमि की भी तोह कोई हद होती है,..... हर ईंट यह सोचती है की,... दीवार मुज पर टिकीं हुयी है !

      Vajpayee, Kalam and Modi have proved that if there is no disturbance from wife in life, even a poet, scientist or a chai wala can lead a nation !

      Maya, Mamta, & Jayalalitha have proved that if there is no husband to disturb, a woman can disturb a nation !

      Keep smiling!

      अलार्म लगाये ही इसलिए जाते हैं कि जब बजें तो उन्हें स्नूज़ कर दिया जाए


      ये जो तुम्हारी "हम सिर्फ अच्छे दोस्त हैं" वाली लाइन है..ये भी हिट एंड रन ही है



      आवेदन पत्र हमें झूठ बोलना भी सिखाते थे। खडूस प्रिंसिपल जो फूटी आँख ना सुहाता था, उसे भी "आपका सदैव आभारी" और "आपका आज्ञाकारी" लिखना पड़ता था।



      दिल्ली में आई ऑडियो वीडियो क्रांति के चलते अगले 5 साल में न जाने कितनों के घर की इज्जत whatsapp पे ऑडिशन देती घूम रही होगी



      आज के जमाने में आप तब तक सच्चे दोस्त साबित नहीं हो सकते.
      .
      जब तक कि आप आपने सिंगल दोस्त की सेटिंग नहीं करवा देते...........



      ये भाग दौड़ भरी जिंदगी रुकना मना है,
      .
      .
      .
      .
      मोबाइल चार्ज करना नही भाई, पॉवर बैंक लेके चले.
      प्रश्न :- आप कैसे जानोगे कि अमुक महिला dieting पर है?
      उत्तर :- वो आपको खुद बतायेगी।

      मेहमान दो तरह के होते हैं...एक अच्छे मेहमान एक बुरे मेहमान..अच्छे मेहमान वो जो आपकी लायी नमकीन का सदुपयोग करवाएं..और बुरे मेहमान वो जिनके आने पर आप नमकीन के साथ चाय दें




      मैनेजमेंट तो तब हुआ जब सफ़र में आप थोड़ा-थोड़ा करके एक बोतल पानी पी भी जाएँ और कहीं लघुशंका भी ना लगे!




      100 baatho ki ek baath.......

      "Mera babu, mera shona, khaana khaaya...?" MAY BE TEMPORARY

      But....

      "Beta khaana kha le....." IS PERMANENT



      कच्चे घर बनाते रहे हम आशिक़ी के तूफ़ान में,
      पक्की ईंटो का हमारे इश्क़ का मक़बरा बना

      100 baatho ki ek baath.......

      "Mera babu, mera shona, khaana khaaya...?" MAY BE TEMPORARY

      But....

      "Beta khaana kha le....." IS PERMANENT
      वो मुस्लिम के खेत भी जाता है
      वो हिन्दू के खेत भी जाता है
      .
      .
      खेत में हगने वालो का कोई धर्म नही होता।




      __________________
      example is better then precept.

























      Last edited by P_Jani; 07-14-2016 at 09:37 PM.

    11. #8
      Active User
      This user has no status.
       
      I am:
      ----
       
      P_Jani's Avatar
      Join Date
      Jan 2012
      Posts
      30,868
      Post Thanks / Like
      Mentioned
      0 Post(s)
      Tagged
      0 Thread(s)
      Follows
      0
      Following
      0
      Rep Power
      5258

      Default

      there is a hard core fan of Paul Walker in Mumbai...lol


    12. #9
      Active User
      This user has no status.
       
      I am:
      ----
       
      P_Jani's Avatar
      Join Date
      Jan 2012
      Posts
      30,868
      Post Thanks / Like
      Mentioned
      0 Post(s)
      Tagged
      0 Thread(s)
      Follows
      0
      Following
      0
      Rep Power
      5258

      Default













      This happens only in India



      Yaar, Even dulha has his face covered with those things and he cant see "what" he is marrying. Poor man doesnt complain

      I would rather protest to have those things removed from dulha first But hey both are a matter of life and death, a good view of the road to prevent accidents and a good wife!



      छोटी छोटी बातों पे लोग इतनी बेहूदा
      बच्चो वाली हरकतें करते है, और चक्रम भी तो लल्लू-मदन, ऐसे "एडमिन", उसे बढ़ावा दे कर उस पर भारी चर्चा-विचारणा करते हुए, मानो की एक दूकान खोल रखी है. बस यह ही सॉल्व कर के सुलज़ाने का एक बाजार ( मंडी ) खोल रखी है, क्या?
      ना खत्म होने वाली बहस करते है ! लगता है, मानो फोरम का मेइन एजेंडा ही येह ही है
      बच्चों का केन्डी चुरा लेने का केएस सीन के, उस बालिश हरकतों पर, दयान बटोरना . कुछ लोगों ने तोह बस येह ही करने का पेशा बना लिया था, अच्छा हुआ की चक्रान और लक्ष्या ने बोला की सब को बाहर धकेल कर अपनी स्पेस दे दो, और जब तक आपस में सलाह-मश्वरा कर के, अपने-आप सुलज़ा कर ना आये, अंदर ही मत आने दो, लप्पू-छान्नरो को... पता नहीं चलता की एडमिन, एक बबुचक और जोकर है या फिर ऐसी हरकतमं करने वाले,,.. ये, सो कोल्ड डम्ब पढ़े-लिखे !
      पढ़ा-लिखा फोरम क्या, कभी ऐसे होता है ? भाई, मैंने तोह नहीं देखा, आज तक....फोरम ने तोह बेईन-फाड़, मानो की, एक नया धंधा ही पकड़ ले रखा है, बस ऐसी छोटी-मोती हरकतों का सलाह-सुजाव, मश्वरा कर के , बच्चों की किंडर-गार्टन क्लास लेना, सुलज़ाना और सलाह-सूचन कर के, बच्चों को शांत करवाना ?

      मेरे ख्याल से " एनी-अम्बी, वापसी-ना-vapasi, देसी-विदेशी , आहिरमेन - विजागदेसी, हैदराबादी-महेम्दावादी, देसी-बर्बादी-विजागदेसी-आज़ादी, ऐसे सब खडूशों जो यह धंधा कर रहे है, उसे सब को , दौ चांटा मार के, बाहर दे धकेलना चाहिए.

      मेरी, एक डॉक्टर होते हुए एक प्रामाणिक राय है येह. मेरे एक डॉक्टर फ्रेंड ने येह लिंक भेजा तोह में तोह चकित रह गया, सब डफर लोग है, और एडकेटेड फोरम बोला जाता है ? माय फुट.
      Last edited by P_Jani; 01-20-2016 at 11:31 PM.

    13. #10
      Active User
      This user has no status.
       
      I am:
      ----
       
      P_Jani's Avatar
      Join Date
      Jan 2012
      Posts
      30,868
      Post Thanks / Like
      Mentioned
      0 Post(s)
      Tagged
      0 Thread(s)
      Follows
      0
      Following
      0
      Rep Power
      5258

      Default


      में बद्री बोलतो. नथुराण गोडसे नहीं, जो गांधी जैसे को मारे.

      August 9, 2015badriprasad Leave a comment Edit जनाब श्री सिंघम जी :
      देवी एम वि की प्रतिष्ठता बेजोड़ , बे-नमून और बड़ी सराहनीय है. उनकी प्रशंषा के लिए शायद मेरे पास शब्द भी तो कम पड़ जाए. उनकी विचार-सरणी, लिखी, कलम, अंग्रेजी हथौटी, टीना मीना के उदहारण, काफी प्रशंशनीय रहे, लोगो ने काफी, अच्छी-खासी शिख ली, सामाजिक प्रश्नो पर भी चर्चा-विचारणा की गयी, बहन से कुछ शिखना मिला,
      मगर हुआ यूँ, की कुछ कम-जाट, पैसा-लालसू और हिटलर की औलाद जैसे हाई हेड लोगो ने फोरम पे कब्ज़ा जमाया, फोरम को एक ‘अहम’ पोस कर, बस यूँ ही पैसा बनाने का साधन देखा,.. और अच्छो अच्छो का गहना, ब्लावुज़, ब्रेसियर, पेंतीस और इज्ज़त की तोह बात ही छोडो, सब कुछ लूट कर ले गए, लोगों को मारा-कापा-पिसा, काटा, जलील किया, गान पे डंडा मार के भगाया, सरमुखत्यारी भरा शाशन जो किया, पैसा बनाया, तोर-तरीके से सब को कायदे की रु से गुलाम, अपाहिज, और नपुंशक बना के, लोगो को बेन किया, जलील किया, भगोड़ा कर के रस्ते रजलते जो कर दिए, किसी फतवे, छक्के में आवाज़ ऊँचा कर ने की भी तोह हिम्मत ना बची,.. सब मनमोहन की तरह बिना ढढे के, कायर, नपुंसक और तबोता पड़ने वाले हिजड़े बने रहे,.. देवी एम वि पे चिचियारी और ठिठियारी की गयी, लाफिंग स्टॉक बना के, बेयिन-फाड़ हंस दिया गया,.. गु -मुतर उड़ाए गए,.. सब छक्के बने, तमाशा देखते रहे,.. .. किसी ने मैनेज=मेंट के खिलाफ आवाज़ नहैं उठायी,..
      अधन, नीच और घटिया लेवल का पैसा बनाने का अनुशाशन जो किया, जोर-जुलम और सरमुखत्यार-शाही से कायदे-कानून से लोगो पर मानसिक दबाव डाल, अपाहिज और नपुंशक किया दिया गया,..
      आग से धरती फटी,
      अधर्म से आसमान, अत्याचार से, भेन-फाड़ काँपी इंसानियत, और राज कर रहे है कमीने, निम्न-स्तर लेवल के शैतान से भी बदतर हैवान.
      जिस की होगी ताक़त अभेद,…
      जिस का होगा निशाना अपूर्वा,
      जो करेंगे इन बेयिन-फाड़ स्कंडरोल्स सब का सर्व-नाश और सत्य-नाश ,
      वह ही धारण करेंगे डिग्री मुन्ना भाई एम बी बी अस की.
      उस के वास्ते लायन को रोर चाहिए..
      आज हमारे बीच अगर जो एक नर-बंका , एक वीर योद्धा, एक सर्व शक्तिमान, एक भड़-वीर की औलाद जो आज कोई है, बीच सीना तान खड़ा है,.. तोह वह है, श्रीमान मुन्ना भाई, हाँ जी,.. हमर अपना संजूबाबा , बिना डिग्री का एम बी बी स , मगर अच्चों अच्छो की बोलती बंध करने वाला, नस-बंधी करा के छठ्ठी का धावन याद दिलाने वाला,.. मुन्ना भाई, हमें ऐसे भड़-वीर, नर-बँके पर आज पूरा नाज़ है, जो आज , बेसहारो के साथ चक्र-धारी कृष्ण की तरह, सच का साथ दिए खड़ा है,..
      बदला लेंगे, गिण-गिण के लेंगे, चुन-चुन के लेंगे, हर एक हराम-खोरों को धूल चटाएंगे, खुल्ले-आम खुल्ला करेंगे,.. छरे चौक धज्जियां उड़ाएंगे,
      तुम सिर्फ देखते रहियो,. आगे-आगे देखियो, होता है क्या ? ब्युगल बज चुके है,… युद्धा घोसित है,..
      और हाँ,…जुबान को लगाम देना,.. भाई को कुछ बोलने सेपहले, सौ बार सोचना,.. अगर दम है तो वोह नहीं है बाजीराव शिन्घम,… ज़माना चुल-बुल पाण्डे का चल रहा है,.. बद्री से तोह दूर ही रहियो, जुलम-खोरो को तोह लिक्विड ऑक्सीजन में डाल देगा, लिक्विड जीने नहीं देगा, और ऑक्सीजन मरने.
      जरा इस बद्री की भी तोह ज़ुबान चलने दौ,
      जरा हम से भी तोह दो हाथ हो जाये, जनाब,.. ज़िन्दगी भर, तुम भी तोह क्या याद करोगे की,. किस से पाला पड़ा था,… कोई मिल गया था,.. बेयिन-फाड़, इसी राह चलते चलते,… गर्भा-धान की गैरंटी मैं देता हूँ,.. जरा भाई मुन्ना , बहना,… और बड़े भाई बोबुस पे अंगुली कर के तोह देखे जनाब,.. ज़िंदा ना पावोगे, अर्थी को कन्धा देने वाला भी तोह कोई न मिलेगा,… खात्री हम देते है, भिडू.. … हमारी जुबान में ही इतना तोह दम है,
      बाय डी वे, लोग इज़ नाचीज़ को बद्री प्रसाद कहते है, मुन्ना भाई को कुछ बोलने से पहले सावधान,.. हाँ ठीक सुना,… वर्ना जुबान मरोड़ दी जाती है, यह बद्री का वादा रहा, अगर हिम्मत है, तो इस औरत का साथ दो, जिस पर जुलम हुए, अत्याचार हुए, जिन को काट कर, एक ही दिन में फेंक दिया गया, करी- करायी बरसों की मेहनत को भी किस ने याद ना किया, और आज एक बाग़बान , भगवान खुद बन के खड़ा है, तोह परवाह नहीं, चाहे कोई देशी आये या विदेशी, खत्री-छतरी फार के रख देंगे,.. बून के रख देंगे.
      मेयिक नो मिस्टेक. बद्री से मत उलजियो.
      हम अंग्रज़ी, हिंदी, पजाबी, मराठी सब जानत है, “देशी-विदेशी” सभी फिलिम देख के आये है, “हरद्वार और कुम्भ” का मेला भी देख लिया,… कहींन भी न्याय नहीं मिला, हमरी बहना और बड़े बबुवा को. बरसों की लोही की सींची मेहनत का भी तोह ना
      मूल्यन किया गया, अवहेलना और अवमूल्यांकन सिर्फ ही तोह मिला,.. बस पैसा कमाने की लालचा में, गांड पे लात मार,बस यूँ ही तगेद दिया गया.. !
      आज अगर जो कोई, माई का लाल खड़ा है बोबुस और एम वि के साथ तो वह है, हमारे अपने मुन्ना भाई,… यस हमर अपना मुन्नाभाई मब्ब्स अपने सरकिट के साथ.
      और जालीम,.. खामोश, आप को आवाज़ ऊँचा करने की भी तोह यहाँ इज़ाज़त नहीं है,
      यह हमारे मुन्ना भाई का दरबार है, कोई बॉडी-बामणी का खेतर नहीं, जो कोई भी देसी-विदेशी ऐरा-गैरा, शंकर-शम्भू, कुम्भ-लूम, ऐरे-गैरे, लल्लू-पंजू, और गटर-पंजू, कोई भी लप्पू-छन्नर, बस यूँ मन-मर्जी फावे यूँ ही घुसे, चले आवे,
      और भाई को गालियां दे, बस यूँ ही चल निकले. जुबान मुख-गुहा में ना पावोगे, किसी और गुहा में फंसी देखोगे
      कंधे पर हाथ भी तोह लटकते हुए नहीं पावोगे, यह वादा रहा.
      हमारी जुबान ही काफी है, तलवार से भी कहीं तेज चलती है..
      जावो और उस जुलमगर को ढूंढो,.. आखिर बहन एम वि और बड़े भैया बोबुस पर जो ज़ुलनम और अत्याचार किस ने किया ! पकड़ो ऊन हराम-खोर एडीएम को.
      और हाँ,.. आवाज़ को लगाम दौ, यह मुन्ना भाई का दरबार है, कोई हिंदी न समज़ने वाला देश-द्रोही ओ का सर्कस -खाना नहीं..जो अपने देश की चैनल पर खुद की मातृभासा हिंदी भी ना जानते हो.
      यहां बस सिर्फ मुन्ना भाई के हुकुम और कलम ही चलते है , ना तोह यह कोई कुम्भ का मेला है, ना कोई कसीनो, या दारू-जुगाड़ी का पैसे कमाने का और कोरडे विंज़ने का कोई अड्डा, की जो भी कोई भी ऐल-फेल, ढोर-गंवार, शूद्र-नारी, सब ताडन के अधिकारी, बस यूँ ही घुसे चले आये !
      भाई से परमिट ली है, क्या? ज़माना बाजीराव का नहीं रहा जनाब,.. , बद्री अभी ज़िंदा है,
      फॉर ओर काईंड इन्फो प्लीज़ . माइंड एट !
      में बद्री बोलतो. नथुराण गोडसे नहीं, जो गांधी जैसे को मारे.
















      માય ઇંગલિશ ઈસ નો ગુડ,
      ટેલ એની ગુજરાતીઃ ટુ ટ્રાન્સલેટ

      ગિરીશ નામદાર.

      પ્રણામ એન્ડ પાય લાગુ ટુ ઓલ. કોપી ટુ ઓલ.

      ભદ્રા કિલ્લા, લાલ દરવાઝા, અમદાવાદ.

      રાકેશ ભાયી ની ઈ-મેયિલ હમણાં હમણાં જ મળી છે, હું ફોરમ પર નો શાંત સભ્ય છું, ઈંગ્લીશ આવડતું નથી એટલે ખાલી વાંચુંજ છું, મારા ઘણા કવિ-સંમેલનો અને યૂટ્યૂબ પર સમૂહ-સંમેલન વિડીયો મુકાયેલા છે,.. આ બધી ભેણ-ભગત, વહીવટ કરતાઓ એ સળગાવેલી હોળી છે. ચંપલૂસી, ઘૂસણખોરી, લાગવગ અને અન્યાય સામે આવાઝ ના ઉઠાવી શકવાના, ફોરમ મેમ્બર્સ ના નપુંસકતા ના આ બધા પરિણામ છે. માથા -ભારે લોકો એ માઝા મૂકી દીધી છે, માધાંતા અને માફિયાઓ ને કાયીન ના કહી શકવાની ક્ષતિ ને કારણે, આજે માથા- ભારે, આદમ-ખોરો, ગંધાતી ગાણો, જાત ને જ ખુદ ઈશ્વર સમઝનારા ગુજરાતીઃ નામ ધરાવતા પણ એક ગુજરાતીઃ ક ખ ગ પણ ના બોલી, વાંચી, સમઝી શકનારા, નકરા ગેલચોડ્યાઓ ને પણ મેં અહીં જોયા છે... મોદીજી ને ભાંડનારા અને રાગા એન્ડ રામદેવ, કોંગ્રેસ ના વખાણ કરનારા, ટેરરિસ્ટ માફિયાઓ , કે જેમને ફોરમ ને ઉભું કરવા માં કદાચ પૈસા પણ ખવડાવ્યા હશે, આજે એજ બેઇન-ફાડો, ફોર્મ ની માં ને આણે છે, પુરે-પુરી, આગળ-પાછળ થી થોકે છે. ચારે-કોર થી ઠોકો--મારી ને ફોરમ ની માં ને પુરેપુરી આણી નાખી છે, કાયિક લોકો ફોરમ મૂકી ને ભાગી ગયા છે, વહીવટ કરતા ઓ ના રાજીનામાં પણ પડ્યા છે, કેટલાક ને વળી ગાન ચાટવાની આદત જ, જે પડી ગયી છે,... પંજાબી ઓ પણ આમાં છે,.. એક ગુજરાતી ઠોક્યો પણ આ માં ઘુસ્યો સાફ દેખાય છે, નિર્દોસ લોકો ને ફોરમ પર થી ગ્રુપ હુમલા માં હાંકી મુકાય છે, ઘણા ચુનંદા સભ્યો ને પાણીચું આપી, કાયમી બાન મળ્યા છે. નામ-ચીન સભ્યો ને તગેડી મુકાયા છે, અને આ બધું જ બે-ત્રણ એરોગન્ટ-ઇડિયોત
      ચરબી, ચરસી અને ગાન માં ગુ થી ભરેલા, તીસમારખાં ના સ્વાંગ માં રાચનારા, ઈગો અને મિથ્યા અભિમાન ના પૂતળા અને પડેલી ગાન ના ગંધાતા એવા બે-ત્રણ ગેલ-ઠોકીના ઓ જ
      અહંમ ને પાળવા ફોરમ ની પત્તર બસ ઠોક્યાં જ કરે છે.

      શાના સમઝુ તોહ ફોરમ છોડી એન ભાગ્યા છે, સમજુ લોકો તો ઢેડ -ભંગી અને માતેલા સાન્ડ થી દૂર જ રહે છે. કેટલીક મહિલા ઓ ફોરમ અને પોતાની રોજનીશી ડાયરીઓ છોડી ને ભાગી છે,
      આ નીચ અને એવા કાળા ના કરનારા ઓ, ફોરમ ની પુરી માં ઠોકી ને જ જપે તેવા છે, અહંકાર ના પૂતળાંઓ, અને ગુગલ સિવાય જ્ઞાન નો એક પણ છાંટો નથી એવા આ ચડસી ના ભરેલા
      નવા જમાના ના આપ-ખુદ શાહી વાળા હિટલરો છે. શિપ ના કેપટને ચૂડીયો પહેરી લીધી છે,
      માફિયા ઓ ની મરઝી અને ઈચ્છા મુજબ ફોરમ ચાલે છે, ચડી-ચુગલી અને કાનભંભેરણી થી , જે તે ને કાઢી મુકાય છે, કેટલાક ગાન-ચાતુ ઓ થી આ માફિયા ઓ ને થોડો ક જોશ, જુસ્સો ઉમંગ અને પોરો ચડે છે, અને તેમની દુકાન ચાલતી રહે છે,... ફોરમ ની માં અણાતી રહે છે,

      થવા દો તયારે, જે થતું હોય તે થયી જવા દો, હિટલરો કી ગાણો ચાટો અને તેમને વધુ મઝબુત કરો, વાપસી, ઓકોનોમી, બોબિસ, મોમેન્ટો, જગ્ગુદાદા , મેન, વિઝગદેશી, વાપસી, ગોયિંગ નોવ્હેર, એન્ની, આહીર મેન , જાની, અનુ, માયા, કહલોરિવેરા, ડેસીમએમ, રિમ-ઝિમ, સાયી , સુમિત, ઓ જિ, પી જી, સુમિત, કારકસ, મિનફ, હ્યદરાબાદી, આંભી, સાયબરાબડી, ડ્યૂટી ફૂલ,
      જવા દો સૌ કોયી ને,.....

      સાંભળીરાખી એની માં ને, ડૉક્ટર ફિલ, દ આયિન્સતાયીન, અને રેડિયો-રાજ,...
      ભેણ-ફાળ સરમુખત્યાર-શાહી ઝિંદાબાદ,
      એડ્મીન્સ ને બોલો, ચૂડૂઈ ને ઘાઘરા સારી રીતે પહેરે,
      મેમ્બર્સ ને બોલો, મૂંગા મરે, અને વાઘ ને એક એક આદમી ઉપાડી લાયી જવા દે,
      માફિયા ઓ ની ગાન-ગુલામી કરો,..... એમની ગાન ચાટો અને સૂંઘો,...

      શું કહો છો ત્યારે, માફિયા રાજ ઝિંદાબાદ. આ બેલ મુજે માર.
      મેરી માર, કડક "સી ઓ સી" સે માર , આગળ સે માર, પાછળ થી માર, આર-પાર માર.

      અમને ગુલામી ની પ્રથા ની આદત પડી ગયી છે,.... માફિયા ઓ થી મરાવવા માં મઝા આવે છે,
      લિપ-લીકર્સ ભલે લોકો કહેશે, પણ અમે તો ગાન ચાટસુ રે !
      ગોડ-ફાદર્સ ની ચરણ-રાજ લેશું રે.

      ચુલ્લુ- ભાર પાણી લાયી ને ડૂબી મરો બેઇન ફાડો, આ એ સાબર માટી નું પાણી છે, એક કાઠિયાવાડી ડોસા એ અંગેરીઝો ને લાકડી મારી ને ભગાવ્યા, વિના વાર કરે,..
      એક લોખંડી પુરૂષે આખું રસ્તા એક કર્યું.,
      આજે એક મોદી ભડ-વીર આખી દુનિયા પર ભારી છે,..
      સાબરમતી ના એક સસલા એ કુતરા ને હંફાવ્યું, નાબ અહમદશાહ બાદશાહ ને અમદાવાદ ઇડર કુ બસાયા..

      અને આજે, આ ગેલ-ચોળીના ઓ, ઠોકીના અને બહેન-ભગતો, જોહુકમી પ્રથા ની આલોચના કરી, માફિયા ઓ ના ગુ ચાટે છે, શરમ મને આવે છે, હું ગાન્ધી, પટેલ, મોદી એન્ડ મોરારજી ની ધરતી નો છું , આજે આ ગાણ ચાટણ-ગિરી જોયી ને, શરમ થી હું મરી જવું છું.

      જય રામજી કી, કર્યા ભોગવશો, ગેલ-ઘાંઘરીના ઓ

      - Girish Naamdaar.
      Note: My English is poor. Get a Gujarati Translator.






      Last edited by P_Jani; 07-28-2016 at 10:45 PM.

    Posting Permissions

    • You may not post new threads
    • You may not post replies
    • You may not post attachments
    • You may not edit your posts
    •